Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
On Page SEO Kya Hai? 10 Best On Page SEO Techniques in Hindi (2019)

On Page SEO Kya Hai? 10 Best On Page SEO Techniques in Hindi (2019)

एक ब्लॉग/वेबसाइट सभी SEO प्रक्रियाओं का फोकस बिंदु है और यदि यह Search Engine और Users दोनों के लिए ठीक से optimized नहीं है, तो आपके सफल होने की संभावना कम से कम हो जाती है। अगर आपका खुद का ब्लॉग/वेबसाइट हैं तो यह आर्टिकल आपके लिए बहुत मददगार साबित होने वाला हैं। इस आर्टिकल में आप जानेंगे On-Page SEO Techniques के बारे में। 

On-Page SEO Techniques के बारे में जानने से पहले यह जान लेते हैं की SEO क्या हैं ?

What is SEO? | SEO Kya Hai?

 

What is SEO? | SEO Kya Hai?

SEO
SEO का Full Form हैं – Search Engine Optimization (सर्च इंजन ऑप्टिमाइज़ेशन) जैसा कि नाम से पता चलता है कि, यह आपके ब्लॉग या वेबसाइट के लिए किए जाने वाले optimization की एक प्रक्रिया है, जिससे आपके ब्लॉग/वेबसाइट को Search Engine (उदाहरण के लिए Google, बिंग) में पाया जा सकता हैं आपके Niche (Topic) से संबंधित विशिष्ट कीवर्ड के लिए।

आइए इसे आसानी से समझने के लिए एक उदाहरण (example) ले –

मान लीजिये आपके ब्लॉग का Niche हैं “Blogging” जिसमे आप ब्लॉग्गिंग से सम्बन्धित (related) जानकारी शेयर करते हो और आपने एक आर्टिकल लिखा वर्डप्रेस ब्लॉग कैसे बनाएं? (How to Create a WordPress Blog)

अब किसी User ने Search Engine (उदाहरण के लिए Google, बिंग) में सर्च (search) करा, वर्डप्रेस ब्लॉग कैसे बनाएं? (How to Create a WordPress Blog)

तो अब अगर आपने SEO का सही इस्तेमाल किया होगा तो आपका (Blog Post/Article) Search result में दिखाई देगा। तभी User क्लिक करेगा और आपका आर्टिकल पढ़ेगा। अगर आप चाहते हैं की आपके ब्लॉग पर ज्यादा से ज्यादा Users Visit करे तो आपको अपने ब्लॉग पोस्ट को Search Engine के No.1 पेज पर रैंक कराना होगा। उसके लिए आपको अपने ब्लॉग को  SEO Optimized करना होगा।

यह भी पढ़े-

वर्डप्रेस ब्लॉग कैसे बनाये?


SEO सर्च इंजन से फ्री Traffic प्राप्त करने का एकमात्र तरीका है और कौन मुफ्त Traffic नहीं चाहता।

SEO मुख्य दो प्रकार के होते हैं –

  1. On-Page SEO

      2. Off-Page SEO


 

What is On-Page SEO? | On-Page SEO Kya Hai?

On-Page SEO सर्च इंजन रिजल्ट पेज (SERP) में उच्च रैंक प्राप्त करने के लिए आपकी साइट के प्रत्येक और हर वेब पेज को Optimized करने की प्रक्रिया है।

आर्टिकल लिखते समय हम जिन Techniques को Follow करते हैं यह सब On-Page SEO में आता हैं जैसे – Post Title, Post Url, Post Description, Keywords का इस्तेमाल, Headings का Use, Images का इस्तेमाल करना आदि। यह Off-Page SEO से बिल्कुल विपरीत हैं।


Best On-Page SEO Techniques in 2019

अब आप जान चुके हैं की SEO Kya Hai? और On-Page SEO Kya Hai? तो अब हम आपको बताएँगे Best On-Page SEO Techniques जिनकी मदद से आप अपने ब्लॉग की रैंकिंग Improve कर पाएंगे।

  1. Content Quality

High quality content को सबसे महत्वपूर्ण On-page optimization technique में से एक माना जाना चाहिए।

अपनी वेबसाइट के लिए Content लिखते समय, आपको यह सुनिश्चित करने की ज़रूरत है कि आप जो Content अपने ब्लॉग पर पब्लिश कर रहे हैं वो किसी दूसरी साइट से Copy करके तो नहीं पब्लिश कर रहे हैं।

यदि आप दूसरों के Content की Copy कर रहे हैं, तो आप एक गड़बड़ी कर रहे हैं और इस तरह की गड़बड़ी को करने के लिए आपको Google द्वारा दंडित भी किया जा सकता हैं।

पांडा अपडेट के रूप में Google से नवीनतम एल्गोरिथम के बाद, Google डुप्लिकेट या Low quality content के उपयोग के खिलाफ बहुत सख्त हो गया है।

How To Create Good Quality Content

  • कोई भी आर्टिकल लिखने से पहले आपको Keyword Research करना चाहिए।
  • अपने ब्लॉग के लिए आर्टिकल लिखते समय आपको यह ध्यान रखना हैं की आप जो आर्टिकल लिख रहे वो User के लिए Helpful होगा या नहीं, क्या आपके आर्टिकल से User की परेशानी solve होगी।
  • अपने ब्लॉग पोस्ट में आप जिस Topic पर आर्टिकल लिख रहे हैं उससे सम्बंधित images, infographics, videos का इस्तेमाल करे।
  • ऐसा आर्टिकल लिखे जो User आसानी से समझ सके।
  • आर्टिकल लिखने का फॉर्मेट होता हैं उसके हिसाब से आपको आर्टिकल लिखना चाहिए। सबसे पहले आपने जो टॉपिक Select किया उसके बारे में लिखे (Introduction) फिर बीच में आप आपके टॉपिक से सम्बंधित पूरी Detailed में जानकारी दे और उसके बाद Conclusion (निष्कर्ष) लिखे।

आर्टिकल में छोटे Paragraphs लिखे। ताकि User आपके आर्टिकल को आसानी से पढ़ सके।


  1. Blog Post Title

on page seo hindi

Title सबसे महत्वपूर्ण On-Page SEO Factor हैं।  

आपका Focus कीवर्ड Title में जितना अधिक पहले होगा उतना SEO के लिए अच्छा होगा।

आइए इसे एक उदाहरण से बेहतर समझते हैं:

Focus कीवर्ड: “On-Page SEO

Title 1: On‐Page SEO: An Actionable Guide for 2018

Title 2: What is On-Page SEO? SEO For Beginners

Title 3: On-Page SEO Techniques To Rank On The First Page

यहाँ Title 1 और Title 3 SEO के द्रष्टिकोण से अच्छे हैं इसलिए आपको Title में अपने Focus Keyword को जितना हो सके उतना शुरू में रखना चाहिए।

बेहतर Title के लिए निम्न बातो का ध्यान रखे –

  • Title की Length 60-70 Characters रखे।
  • Title बहुत छोटा और बहुत ज्यादा लम्बा भी न रखे।
  • Title में Best, Top, Latest जैसे शब्दो का इस्तेमाल करे।
  • Title में संख्या (Numbers) और वर्ष (Year) का इस्तेमाल करे।

 

  1. SEO-Friendly URLs

Title की तरह ब्लॉग पोस्ट का URL भी On-Page SEO के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता हैं।

SEO-Friendly URLs के लिए निम्न बातो को Follow करे –

  • ब्लॉग पोस्ट के URL में अपना Focus Keyword Add करे।
  • URL ज्यादा लम्बा न रखे।
  • URL में Stop Word का इस्तेमाल न करे। जैसे- is, at, on etc.

उदाहरण से समझे –

Good URL – https://nadaantech.com/on-page-seo

Bad URL – https://nadaantech.com/on-page-seo-kya-hai-or-best-on-page-seo-techniques-in-hindi (लम्बा URL और Extra words)

Bad URL – https://nadaantech.com/p-123=?


  1. Meta Description

Meta Description (CTR) Click through Rate में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

कई इंटरनेट User वास्तव में वेबसाइट पर क्लिक करने से पहले Meta description पढ़ते हैं।

Optimized Meta Description के लिए इन मुख्य बातो को Follow करे –

  • Meta Description की Length 160-170 Characters रखे।
  • हर ब्लॉग पोस्ट का Meta Description अलग और unique होना चाहिए।
  • Meta Description में आपका ब्लॉग पोस्ट किस बारे में हैं उसकी पूरी जानकारी लिखे।
  • Meta Description में अपने फोकस कीवर्ड Add करे। 

 

  1. LSI keywords

LSI का Full Form हैं – Latent Semantic Indexing.

आपके मुख्य कीवर्ड से मिलते जुलते (related) कीवर्ड को LSI keywords कहते हैं।

LSI keywords सर्च इंजन को आपके Content को अच्छे से समझने में मदद करते हैं।  

Google की मदद से आप आसानी से LSI keywords ढूँढ सकते हैं। माना की आपने गूगल पर Search किया What is SEO? अब गूगल आपको सर्च Results पेज पर सबसे नीचे related keywords दिखाएगा यह सभी ही LSI keywords हैं।

on page seo

बहुत सारे फ्री टूल हैं जिनसे आप LSI keywords खोज सकते हो।

  1. LSI Graph
  2. Keyword Shitter
  3. lsikeywords.com

बस अब आप LSI Keywords खोजे और उन्हें अपने आर्टिकल में Add करे।


  1. Internal Linking

अपने ब्लॉग पोस्ट की लिंक को किसी अन्य ब्लॉग पोस्ट से लिंक करना Internal Linking कहलाता हैं।

Internal Linking से आप User को अपने एक ब्लॉग पोस्ट से दूसरे ब्लॉग पोस्ट पर भेज सकते हैं जिससे आपके Page Views बढ़ेंगे और आपके ब्लॉग का Bounce rate कम होगा।

अपने ब्लॉग पोस्ट में उस पोस्ट से सम्बंधित जानकारी वाले पोस्ट की लिंक जोड़े। यूजर के लिए उपयोगी हो ऐसे लिंक जोड़े इससे यूजर के क्लिक करने की सम्भावना बढ़ जाती हैं।


  1. External Linking

जब आप अपने ब्लॉग पोस्ट में दूसरी वेबसाइट के ब्लॉग पोस्ट का लिंक जोड़ते हैं तो ऐसी लिंक को External Link कहते हैं।

आपको अपने आर्टिकल में उपयोगी resources के रूप में दूसरे किसी अन्य ब्लॉग के आर्टिकल को Add करना चाहिए। ऐसी वेबसाइट जिनका Domain Authority (DA) & Page Authority (PA) अच्छा हो उनके आर्टिकल को Add करना चाहिए।

ज्यादा External Link जोड़ने से बचे।


  1. Image Optimization

आपको अपने हर ब्लॉग पोस्ट में उस टॉपिक से सम्बंधित Images का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए।

आपके ब्लॉग पर कोई भी नकरात्मक प्रभाव न हो इसके लिए आपको Images को Optimize करना जरुरी हैं।

Images को Optimize कैसे करे?

Images को Optimize करने के लिए आपको बहुत सारी बातो का ध्यान रखना पड़ेगा –

  • अपने आर्टिकल में Images का इस्तेमाल करने से पहले आपको Image की size को compress करना होगा। Image की size ज्यादा होने से साइट को Load होने में अधिक समय लगेगा। इमेज को आप compressjpeg.com, imageresize.org जैसी साइट की मदद से compress कर सकते हैं।
  • इमेज के Alt Text में आप अपने मुख्य कीवर्ड को Add करे।
  • Copyright फ्री Images का इस्तेमाल करे।

  1. Use Multimedia Content

on page seo

आपको अपने ब्लॉग के आर्टिकल में Multimedia Content का इस्तेमाल करना चाहिए। जैसे- Images, infographics, Videos etc.

क्योंकि बहुत सारे Users को आर्टिकल पढ़ते-पढ़ते उबाऊ (Boring) लगने लग जाता हैं इसलिए आपको अपने आर्टिकल में Images, infographics, Videos का इस्तेमाल करना चाहिए और Multimedia Content का इस्तेमाल करने से यूजर आपके ब्लॉग पर समय बिताएगा इससे आपका Bounce rate कम होगा।

Multimedia Content का इस्तेमाल आपको सीधे रैंक करने में मदद नहीं करता हैं। लेकिन यूजर द्वारा आपकी वेबसाइट पर बिताया गया अधिक समय आपके लिए Google में उच्च रैंक करने की संभावना है।


  1. Content Length (Article Word Count)

यदि आप अभी भी 500-1000 के शब्द के ब्लॉग पोस्ट लिख रहे हैं और आप Google के पहले पृष्ठ पर रैंक करने की उम्मीद कर रहे हैं, तो आप यह बहुत बड़ी गलती कर रहे हो।

क्योंकि, जितनी भी वेबसाइट हैं जो Google के पहले पृष्ठ पर रैंक कर रही हैं उन सभी वेबसाइट के ब्लॉग पोस्ट का Content 1500 शब्द से अधिक हैं।

इसलिए आप जितना हो सके उतना लम्बा आर्टकिल लिखे। यूजर को पूरी Detailed में जानकारी दे और कम से कम 1000 शब्द या उससे अधिक शब्दो का आर्टिकल लिखे।

हालाँकि 500 शब्दो का आर्टिकल भी रैंक हो सकता हैं लेकिन अधिकतर ज्यादा शब्दो वाले आर्टिकल रैंक होते हैं।

यह भी पढ़े-

Top 10 Best Android Apps

YouTube Tips For New YouTubers


Conclusion (निष्कर्ष)

दोस्तों, उम्मीद करता हूँ की यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी रहा होगा। तो आपको हमारा पोस्ट On Page SEO Kya Hai? On Page SEO Techniques in Hindi कैसा लगा कमेंट करके जरूर बताना और अच्छा लगा तो अपने दोस्तों के शेयर जरूर करे।

3 thoughts on “On Page SEO Kya Hai? 10 Best On Page SEO Techniques in Hindi (2019)”

Leave a Comment